Breaking News
Home / नेशनल / आईडीएफसी बैंक 10 शेयर के लिए करेगा 139 शेयर जारी

आईडीएफसी बैंक 10 शेयर के लिए करेगा 139 शेयर जारी

आईडीएफसी बैंक 10 शेयर के लिए करेगा 139 शेयर जारी

निजी क्षेत्र के आईडीएफसी बैंक और गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनी कैपिटल फर्स्ट ने आज कहा कि उन्हें विलय के लिए अपने-अपने निदेशक मंडल की मंजूरी मिल गई है। सौदे के तहत कैपिटल फर्स्ट के प्रत्येक 10 शेयर के लिए आईडीएफसी बैंक 139 शेयर जारी करेगा।

आपको बता दें कि पिछले साल आईडीएफसी बैंक और श्रीराम सिटी यूनियन के विलय की खबरें आई थीं, लेकिन फिर दोनों में आपसी सहमति नहीं बनी और विलय नहीं हुआ. तब श्रीराम ग्रुप के फाउंडर आर राजन ने कहा था कि आईडीएफसी बैंक के साथ फिलहाल बातचीत के रास्ते खुले हैं, लेकिन अब कैपिटल फर्स्ट से जुड़ी खबरें आने के बाद सब साफ हो गया।कैपिटल फर्स्ट के मौजूदा चेयरमैन एवं एमडी वी. वैद्यनाथ विलय के बाद संयुक्त निकाय के एमडी व सीईओ होंगे। लाल संयुक्त निकाय के गैर-कार्यकारी अध्यक्ष का पद संभालेंगे। वह वीणा मानकर को स्थानांतरित करेंगे। हालांकि मानकर भी निदेशक मंडल में बनी रहेंगी।

इस डील से आईडीएफसी बैंक के मुखिया राजीव लाल के लिए एक बड़ी सफलता होगी, उन्होंने 2014 में बैंक का लाइसेंस लिया था। वहीं कैपिटल फर्स्ट के चेयरमैन वी विद्यानाथन के लिए यह आगे बढ़ने में फायदेमंद साबित होगा।आईडीएफसी बैंक का मानना है कि इस मर्जर से उसकी बैलेंस शीट और मजबूत होगी। यही नहीं बैंक को अपना हाउसिंग फाइनेंस बिजनेस बढ़ाने में भी मदद मिलेगी।जानकारों का मानना है कि कैपिटल फर्स्ट के लिए ये वक्त बिल्कुल ठीक है क्योंकि ब्याज दर बढ़ रही हैं। कैपिटल फर्स्ट की मार्केट वैल्यू 8,266 करोड़ रुपये है, वहीं आईडीएफसी बैंक की मार्केट वैल्यू 23,000 करोड़ रुपये है। दोनों के विलय से 31 हजार करोड़ रुपये की वैल्यू वाली कंपनी बन जाएगी।

About sub admin

Check Also

बीजेपी ने जारी किया हरियाण स्टार प्रचारकों की लिस्ट

Share on FacebookShare on Twitter हरियाण में विधानसभा चुनावो को लेकर बीजेपी सरकार कोई कसर ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares