Home / Dehradun / 19 साल बाद स्वतंत्रता दिवस और रक्षाबंधन एक साथ

19 साल बाद स्वतंत्रता दिवस और रक्षाबंधन एक साथ

इस साल भाई-बहन के पवित्र त्योहार रक्षाबंधन पर्व पर अनोखा संयोग बन रहा है। 19 साल के बाद रक्षाबंधन पर्व और स्वतंत्रता दिवस एक ही दिन मनाने का योग बन रहा है। इससे पहले यह संयोग 2000 में बना था।

इस बार रक्षाबंधन पर्व पर भद्रा का साया नहीं रहेगा। ज्योतिष के मुताबिक भद्रा सूर्योदय से पूर्व ही समाप्त हो जाएगी। इसलिए बहनें निश्चिंत होकर दिनभर में किसी भी समय अपने भाइयों की कलाई पर राखी बांध सकती हैं। श्रावण मास की पूर्णिमा के दिन रक्षाबंधन का पर्व मनाया जाता है। इस बार 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के साथ श्रवण नक्षत्र में रक्षाबंधन का विशेष संयोग बन रहा है। इस साल अच्छी बात यह है कि 15 अगस्त को भद्रा सूर्योदय से पूर्व ही खत्म हो जाएगी, इसलिए बहनें निश्चिंत होकर दिनभर में किसी भी समय भाइयों को राखी बांध सकती हैं।ज्योतिष के अनुसार इस साल पूर्णिमा तिथि एक दिन पहले शुरू होने के कारण ऐसा योग बन रहा है। इस साल पूर्णिमा तिथि 14 अगस्त बुधवार को शाम 3.45 बजे से शुरू हो जाएगी। इसका समापन 15 अगस्त को शाम 5.59 बजे होगा। 14 अगस्त को भद्रा व्याप्त रहेगी, लेकिन 15 अगस्त को रक्षाबंधन के दिन सूर्योदय से पहले ही भद्रा समाप्त हो जाएगी। वहीं ज्योतिषाचार्य भाष्कर जोशी का कहना है कि रक्षा सूत्र सिंथेटिक की जगह सूत का लाल धागा होना शुभ होता है।

About sub admin

Check Also

उत्तराखंड के सीएम ने किया आपदा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा

Share on FacebookShare on Twitter उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने मंगलवार को उत्तरकाशी ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares