Breaking News
Home / उत्तर प्रदेश / कटरी धर्मपुर गौशाला में हुई चार सौ से अधिक गौवंश की मौत

कटरी धर्मपुर गौशाला में हुई चार सौ से अधिक गौवंश की मौत

हिंदू समाज में गाय को मां को दर्जा दिया जाता है। लोग गाय को सिर्फ पालते नहीं हैं,पूजते भी हैं औऱ उसकी सेवा करते हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए सरकार में ज्यादा से ज्यादा गौशालाओं को खोलने का फैसला किया था। जिससे कि आंवारा घूम रही गायों को शरण मिले उनकी देखभाल की जा सके। लेकिन हालातों  से नहीं लग रहा है कि अभी भी ऐसा है। यूपी में हर जगह दूर-दूर तक गंदगी फैली हुई है। मिट्टी औऱ दलदलनुमा कीचड़ है। जिसमें गायें अंतिम सांसे गिनती हुई लंबी-लंबी सांसे लेती है। औऱ कुछ समय में ही वो दम तोड़ देती हैं।

फर्रूखाबाद की कटरी धर्मपुर गौशाला में पिछले छह महिनों में देखभाल के अभाव में लगभग चार सौ से अधिक गौवंश की मौत हो चुकी है। ट्रांजिट हास्टल में बनी अस्थाई गोशाला से भी रोज कई गायों की मौत हो जाती है।  चारा खिलाने वाले कर्मचारी का कहना है कि गाएं भूख की वजह से मर रही हैं। जितनी गाएं हैं, उनके हिसाब से चारा-पानी कुछ भी उपलब्ध ही नहीं होता है। विधायक का कहना है कि गौवंश के लिए सीएम ने आयोग बनाया है। बजट बेशुमार दिया जाता है।

 

मुख्य विजिलेंस अधिकारी ने इस मामले पर बताया कि गौशाला का जिम्मा नगर पालिका को दिय गया है। वो ही याहं पर गायों औऱ मवेशियों को लाकर रखते हैं और खाने की व्यवस्था भी करवाती है। और ये सिर्फ एक इसी गौशाला में इतनी तादात में गायों की मौत हुई हैं।

प्रदेश में सिर्फ एक अफवाह पर गौरक्षकों को सड़क पर गुड़ागर्दी करते हैं। उन्हें खाना पानी और दवा नहीं मिलती है। तो सब सिर्फ तमाशा देखते हैं। तब ना किसी गौरक्षक का खून खौलता है। ना ऐसे लोगों के खिलाफ कोई आवाज बुलंद करता है। गाय भी अब सिर्फ सियासत बन गई हैं।

About sub admin

Check Also

चंदौली जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक ने किया बाढ़ग्रस्त क्षेत्रों का दौरा

Share on FacebookShare on Twitter चंदौली जिलाधिकारी नवनीत सिंह चहल व पुलिस अधीक्षक हेमंत कुटियाल ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares