Home / ऑटो/ टेक्नोलॉजी / नासा ने लॉन्च किया स्पेसक्राफ्ट, खोलेगा सूरज के राज

नासा ने लॉन्च किया स्पेसक्राफ्ट, खोलेगा सूरज के राज

नासा के मिशन सूर्य नमस्कार की शुरुआत हो चुकी है, जिसके जरिए नासा ने सूर्य के सबसे नजदीक जाने का जोखिम उठाया है. रविवार को दोपहर बाद 3:31 बजे नासा का पार्कर सोलर प्रोब स्पेसक्राफ्ट लॉन्च कर दिया गया है. नासा के कैनेडी स्पेस सेंटर से लॉन्च होने के बाद यह स्पेसक्राफ्ट सूर्य के सफर पर निकल चुका है।

यह सूर्य के सबसे नजदीक जाकर उसके राज खोलने के लिए आंकड़े जुटाएगा. इस मिशन से सौर हवाओं से धरती पर पड़ने वाले प्रभाव का पूर्वानुमान लगाने में मदद मिलेगी. नासा ने इस मिशन को Touch The Sun नाम दिया है, क्योंकि ये पहला ऐसा मिशन है, जो सूर्य के सबसे करीब पहुंचेगा।

इस स्पेसक्राफ्ट की गति सात लाख 16 हजार किलोमीटर प्रति घंटे है. यह पृथ्वी से सूर्य के बीच 1496 करोड़ किलोमीटर की दूरी चार महीने में पूरी कर लेगा. नवंबर के महीने में जब नासा का स्पेसक्राफ्ट सूर्य के सबसे नजदीक पहुंचेगा, तब सूर्य की सतह से उसकी दूरी करीब 62 करोड़ किलोमीटर होगी।

उन्होंने कहा, ‘हम वहां खाली हाथ नहीं जा रहे. हम अपने साथ उपकरणों का जखीरा लेकर जा रहे हैं. ये उपकरण उस माप में सहायक होंगे, जिसकी कल्पना हम अब तक करते रहे हैं.’ कार के आकार का सोलर पार्कर प्रोब स्पेसक्राफ्ट सूर्य के इतने करीब पहुंचेगा, जहां आज तक कोई अंतरिक्ष यान नहीं पहुंच पाया है, लेकिन सूर्य के इतने नजदीक पहुंचकर भी उसका कुछ नहीं बिगड़ेगा।

जब ये स्पेसक्राफ्ट सूर्य के सबसे नजदीक होगा, तब वहां के वातावरण का तापमान 1400 डिग्री सेल्सियस होगा. तापमान से स्पेसक्राफ्ट को बचाने के लिए करीब 12 सेंटीमीटर मोटी हीट शील्ड लगाई गई है, जो सूर्य की किरणों से इसकी हिफाजत करेगा. इसे थर्मल प्रोटेक्शन सिस्टम से लैस किया गया है, जो इसे सोलर रेडिएशन के प्रभाव से नष्ट होने से बचाएगा।

About sub admin

Check Also

सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रदेश में एनआरसी लागू करने की बात कही

Share on FacebookShare on Twitter मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने प्रदेश में राष्ट्रीय नागरिकता रजिस्टर ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares