Breaking News
Home / नेशनल / पीएम मोदी की राय पर तमाम मंत्री पहुंचे सुबह साढ़े 9 बजे दफ्तर

पीएम मोदी की राय पर तमाम मंत्री पहुंचे सुबह साढ़े 9 बजे दफ्तर

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देशों के बाद तमाम मंत्री अपने कार्यक्रमों को दोबारा तय कर रहे हैं ताकि वे सुबह साढ़े 9 बजे दफ्तर पहुंच सकें। उपभोक्ता मामलों के मंत्री राम विलास पासवान भी उसी वक्त पर दफ्तर पहुंचे और अपने अहम सचिवों के साथ सुबह की दैनिक बैठक की। नए कैबिनेट मंत्रियों में जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत और कई जूनियर मंत्री भी पहले ही दिन से सुबह साढ़े 9 बजे से काम शुरू कर दे रहे हैं। राम विलास पासवान ने अपने विभाग को निर्देश दिया है कि उनके रूम में एक बड़ी स्क्रीन वाला डैशबोर्ड लगाया जाए जिस पर अपडेटेड सूचनाएं मिलें जो माउस से सिर्फ एक क्लिक की दूरी पर हो। पता चला है कि नकवी का स्टाफ तो साढ़े 9 बजे से पहले ही दफ्तर आ जाता है। इसी तरह, पहली बार केंद्रीय मंत्री बने अर्जुन मुंडा भी समय पर दफ्तर पहुंच रहे हैं। उनके कार्यभार ग्रहण करने के बाद से ही उनका स्टाफ काफी व्यस्त है। वह योजनाओं की समीक्षा कर रहे हैं और सरकार के 100 दिनों के रोडमैप पर काम कर रहे हैं।

पीएम मोदी ने खुद का उदाहरण देते हुए बताया कि जब वह गुजरात के मुख्यमंत्री थे तो नौकरशाहों से पहले ही ऑफिस पहुंच जाया करते थे। उसके बाद से सभी सीनियर मंत्रियों ने संबंधित विभागों में अपने-अपने जूनियर मंत्रियों के कामों का बंटवारा कर दिया है और उन्हें अहम जिम्मेदारियां दी गई हैं। सीनियर मंत्रियों ने ऐसा इसलिए किया ताकि जूनियर मंत्री यह जान सकें कि सरकार कैसे काम करती है और उन्हें यह न लगे कि उन्हें नजरअंदाज किया जा रहा है। अब सभी फाइलें जूनियर मंत्रियों से होकर गुजरेंगी, जिससे उन्हें काम करने का पर्याप्त मौका मिलेगा।

About sub admin

Check Also

ब्लूमबर्ग एनईएफ की रिपोर्ट : 2030 तक सड़कों पर होंगे 30% इलेक्ट्रिक वाहन

देश की ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री आठ साल का सबसे बुरा दौर देख रही है, ठीक उसी ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *