Breaking News
Home / इंटरनेशनल / प्रियंका गांधी चुनाव लड़ेंगी ?

प्रियंका गांधी चुनाव लड़ेंगी ?

संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (UPA) चेयरपर्सन सोनिया गांधी की बेटी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की बहन प्रियंका गांधी वाड्रा की राजनीति में आधिकारिक तौर पर एंट्री हो गई है. उन्हें कांग्रेस का महासचिव बनाया गया है और लोकसभा चुनाव के लिए पूर्वी उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी दी गई है. प्रियंका की राजनीति में एंट्री के साथ ही एक सवाल जो सबसे ज्यादा पूछा जा रहा है वह है कि क्या हैं लोकसभा चुनाव लड़ेंगी? अगर लड़ेंगी तो वह किस सीट से चुनावी मैदान में होंगी?

प्रियंका को पूर्वांचल का जिम्मा मिला है, ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि वह इसी क्षेत्र से चुनावी करियर का आगाज कर सकती हैं. ताकि कार्यकर्ताओं में जोश भरा जा सके और पूरे क्षेत्र में वोटरों को भी प्रभावित किया जा सके.

राजनीतिक विश्लेषकों ने प्रियंका गांधी के चुनावी क्षेत्र का आकलन भी करना शुरू कर दिया है. लगातार कई ऐसी सीटों के नाम आ रहे हैं जहां से कांग्रेस महासचिव अपना राजनीतिक करियर शुरू कर सकती हैं.

संभावित सीटों में सबसे पहले रायबरेली का नाम आ रहा है. अभी यहां से यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी सांसद हैं, लेकिन पिछले काफी लंबे समय से उनकी तबीयत खराब रहती है. बढ़ती उम्र और खराब तबीयत का ही तकाजा है कि सोनिया गांधी अपने क्षेत्र में काफी कम जाती हैं. प्रियंका इससे पहले भी रायबरेली में अपनी मां के लिए चुनाव प्रचार करती आई हैं. इतना ही नहीं स्थानीय नेताओं से लेकर कार्यकर्ताओं को वह नाम से जानती हैं.

गांधी परिवार का गढ़ माने जाने वाली अमेठी लोकसभा सीट से कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी सांसद हैं. 2014 के चुनाव में उन्हें इस सीट से केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने सीधी टक्कर दी थी, इस बार भी वह यहां से ही अपनी किस्मत आजमा सकती हैं. ऐसे में कयास ये भी लगाए जा रहे हैं कि प्रियंका गांधी यहां से चुनाव लड़ सकती हैं ताकि लड़ाई प्रियंका बनाम स्मृति हो जाएगा. अगर ऐसा होता है तो राहुल गांधी रायबरेली से भी चुनाव लड़ सकते हैं.

पूर्वांचल का केंद्र माने जाने वाली वाराणसी लोकसभा सीट देश की सबसे वीआईपी सीटों में से एक है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यहां से सांसद हैं. अटकलें ऐसी भी हैं कि कांग्रेस अपने सबसे बड़े तुरुप के इक्के प्रियंका गांधी को यहां से ही चुनावी मैदान में उतार सकती हैं. पूर्व केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल का एक ट्वीट भी इसी बात के संकेत देता है. गौरतलब है कि अगर कांग्रेस प्रियंका को यहां से उतारती है तो देशभर में बड़ा संदेश जाएगा.

पूर्वांचल की ही एक और महत्वपूर्ण सीट फूलपुर भी उन जगह में शामिल है जहां पर प्रियंका गांधी के चुनाव लड़ने की संभावना है. ये सीट कांग्रेस की पारंपरिक सीट मानी जाती है, देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू यहां से तीन बार सांसद चुने गए थे. इसके अलावा उनकी बहन विजय लक्ष्मी पंडित भी दो बार यहां से चुनाव जीती थीं. ऐसे में कार्यकर्ताओं की मांग है कि प्रियंका गांधी यहां से ही लोकसभा चुनाव लड़ें. 2014 के चुनाव में ये सीट भारतीय जनता पार्टी के खाते में गई थी, लेकिन बाद में हुए उपचुनाव में बीजेपी को हार का सामना करना पड़ा था.

गोरखपुर लोकसभा सीट भारतीय जनता पार्टी का गढ़ है और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ यहां से सांसद रह चुके हैं. हालांकि, अभी हुए उपचुनावों में बीजेपी को यहां हार का सामना करना पड़ा था. प्रियंका गांधी अगर यहां से चुनाव लड़ती हैं तो वह सीधे तौर पर उत्तर प्रदेश में बीजेपी को उनके ही गढ़ में टक्कर देंगी. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी बुधवार को बयान देकर साफ किया था कि उन्होंने प्रियंका को सिर्फ 2 महीने के लिए नहीं भेजा है. उनका मकसद उत्तर प्रदेश में कांग्रेस का मुख्यमंत्री बनाना है.

About sub admin

Check Also

राज्य सभा सांसद पी एल पुनिया जुटे अपने बेटे के चुनाव प्रचार में

बाराबंकी में अपने बेटे तनुज पुनिया के चुनाव प्रचार में जुटे कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares