Breaking News
Home / उत्तराखंड / सीएम रावत की उम्मीदों पर SIDCUL फेर रहा पानी

सीएम रावत की उम्मीदों पर SIDCUL फेर रहा पानी

भारत के प्रधानमंत्री मोदी औऱ मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने स्वच्छ भारत,स्वस्थ भारत और भयमुक्त भारत के सपने को साकार करने के लिए विभिन्न कदम उठाएं। लेकिन सरकारी अमले की लापरवाही के चलते सपना दम तोड़ता रहा है। किसी भी प्रदेश की आर्थिक औऱ रोजगार का मुख्य केंद्र उस प्रदेश की औद्योगिक इकाइयां होती है। लेकिन इकाइयां ही खतरे में हों। ऐसे में प्रदेश की आर्थिकी औऱ रोजगार दोनों प्रभावित होंगे।

उत्तराखंड में औद्योगिक ईकाइयां धीरे-धीरे पलायन करने लगी है। जिससे सरकारी विभागों का लापरवाह रवैया औऱ कार्यप्रणाली सेलाकुई स्थित सिड़कुल क्षेत्र में फैक्टरियों की दुर्दशा हो रही है। क्षेत्र में लगभग 250 फैक्टरियां संचालित होती है। जिसकी साफ-सफाई औऱ मेंटिनेंस का जिम्मा सिडकुल की है। जिसके एवज में करोड़ों रूपया मेंटीनेंस चार्ज के नाम पर वसूली करती है। लेकिन पूरे सिडकुल क्षेत्र की सड़कों पर गंदगी इतनी फैल गयी है कि लोगों को सांस लेने में मुश्किल हो रही है और गंभीर बीमारियां फैलने का खतरा फैक्टरियों में काम गंदा पानी निकासी के लिए नालियों की सुविधा तो है लेकिन नालियों की सफाई न होने से डेंगू जैसी बिमारियां फैल रही है।

सिडकुल क्षेत्र में लगभग डेढ़ लाख कर्मचारी कार्यरत है। जिनकी जिंदगी के साथ सीधे तौर पर सिडकुल खिलवाड़ कर रहा है। साथ ही सत्तर हजार महिला कर्मचारियों की सुरक्षा से सोदेबाजी कर रहा है। हर रोज महिलाओं के साथ छेड़खानी होती है साथ ही कई बार हमला भी हुआ है। सिड़कुल में सीसीटीवी कैमरों और स्ट्रीट लाईटों को भी दुरूस्त नहीं करवाया गया है।

About sub admin

Check Also

राज्यपाल भगत सिंह पहुंचे चार दिन के उत्तराखंड प्रवास पर

Share on FacebookShare on Twitter महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी पहली बार उत्तराखंड के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares