Breaking News
Home / इंटरनेशनल / ‘SAARC में कई दिक़्क़तें हैं’: विदेश मंत्री एस जयशंकर का बयान

‘SAARC में कई दिक़्क़तें हैं’: विदेश मंत्री एस जयशंकर का बयान

एस जयशंकर ने कहा, ”सार्क में कई दिक़्क़तें हैं और ये सभी को पता भी हैं। सार्क में कनेक्टिविटी की गड़बड़ है। जबकि BIMSTEC में ऊर्जा और संभावनाएं हैं। आतंकवाद से इतर भी अगर बात करें तो एक-दूसरे से जुड़ा न रहने सार्क देशों को दूर कर रहा है।” विदेश मंत्री का निशाना पाकिस्तान की तरफ़ था. जानकारों के मुताबिक़, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में सार्क की बजाय बिम्सटेक देशों को बुलाना भी पाकिस्तान को अलग-थलग करने की रणनीति का हिस्सा था।

 

पड़ोसी देशों से रिश्तों पर जयशंकर ने कहा, ”ये भारत की ज़िम्मेदारी है कि वो पड़ोसी देशों की भी मदद करे। दक्षिण एशियाई देशों में भारत सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।”सीआईआई के एक कार्यक्रम में जयशंकर ने कहा, ”आज विदेशों में बैठे भारतीयों को सरकार से मदद की उम्मीदें होती हैं। इसने विदेश मंत्रालय की छवि को काफ़ी बदला है।”

 

About sub admin

Check Also

बाबा विश्वनाथ के दर पर पहुंचीं प्रियंका

धरना खत्म करने के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी काशी के कोतवाल बाबा काल भैरव ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *