Breaking News
Home / पश्चिम बंगाल / पश्‍चिम बंगाल: भाजपा नेताओं को मिली हत्या की धमकी

पश्‍चिम बंगाल: भाजपा नेताओं को मिली हत्या की धमकी

बर्दवान में जय बांग्ला के नाम पर पोस्टर लगाकर भाजपा कार्यकर्ताओं को धमकी दी गयी है। इस धमकी में कहा गया है कि अगर भाजपा कार्यकर्ता जुलूस निकालते हैं, तो उनकी हत्या कर दी जायेगी। बर्दवान के रथतला में कई भाजपा कार्यकर्ताओं के घरों पर जय बांग्ला के नाम से माओवादियों के स्टाइल में पोस्टर चिपकाये गये हैं। इस पोस्टर में जुलूस में शामिल होने अथवा झंडा लगाने की स्थिति में हत्या करने तक की धमकी दी गयी है। भाजपा ने तृणमूल कार्यकर्ताओं पर ये पोस्टर लगाने का आरोप लगाया है।

बर्दवान भाजपा नगर कमेटी के सदस्य प्रशांत राय ने बताया कि उन्होंने विजय जुलूस की अनुमति ली थी, लेकिन अचानक से प्रशासन की ओर से उन्हें इस बात की सूचना दी गयी कि विजय जुलूस आयोजित नहीं किया जा सकेगा। प्रशांत राय ने कहा कि उनके घर के साथ ही कई अन्य भाजपा कार्यकर्ताओं के घर पर जय बांग्ला के नाम से माओवादियों के स्टाइल में पोस्टर चिपकाये गये हैं, जिसमें जुलूस में शामिल होने अथवा झंडा लगाने की स्थिति में हत्या करने तक की धमकी दी गयी है।

इन सब के पीछे तृणमूल के कार्यकर्ताओ का हाथ हैं। हम इसे लेकर आंदोलन भी करेंगे। तृणमूल के बर्दवान के महासचिव खोकन दास ने आरोप को झूठा बताते हुए कहा कि भाजपा के कार्यकर्ताओं ने ही ये पोस्टर लगाये है। कुछ दिन पहले राज्य में तृणमूल के दो कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गयी थी। तृणमूल ने इस हत्या का आरोप भाजपा नेताओं पर लगाया था। डेबरा थाना अंतर्गत गोलग्राम गांव स्थित भाजपा पार्टी कार्यालय के  सामने भाजपा नेताओं का सिर काट की धमकी देनेवाला पोस्टर  मिलने से हड़कंप मच गया है। इलाके के भाजपा नेता  निर्मल शास्मल ने बताया  कार्यालय की दीवार पर दो पोस्टर दिखायी दिखे। उन पर लिखा था कि भाजपा  नेताओं का सिर काट दिया जायेगा। सूचना देने पर पुलिस ने  पोस्टर को जब्त कर लिया है। भाजपा नेता दीपक सामंत ने बताया कि घटना के पीछे  तृणमूल समर्थकों का हाथ है।  इलाके में लगातार भाजपा का वर्चस्व बढ़ रहा है, जिससे  तृणमूल नेता परेशान हैं। इलाके में दहशत फैलाने के इरादे  से ये पोस्टर लगाये गये हैं।

About sub admin

Check Also

रक्षा मंत्रालय ने किया शहीदों के परिजनों को मिलने वाले मुआवजे में 4 गुना इजाफा

Share on FacebookShare on Twitter शहीद हुए सैनिकों के परिवार वालों के लिए एक अच्छी ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Shares